Sunday, March 3, 2024
Home राष्ट्रीय सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र, राज्यों को वायु प्रदूषण के खिलाफ कार्रवाई करने...

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र, राज्यों को वायु प्रदूषण के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए 24 घंटे का दिया समय

[ad_1]

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी में गंभीर वायु प्रदूषण को लेकर केंद्र और राज्य सरकारों को आड़े हाथ लिया और चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि हवा की गुणवत्ता में सुधार के लिए जमीन पर कुछ भी नहीं हो रहा है। शीर्ष अदालत ने वायु गुणवत्ता प्रबंधन के लिए एक आयोग होने की उपयोगिता पर सवाल उठाया। पीठ ने कहा कि अगर इसमें विभिन्न विभागों के लोग शामिल होते हैं और ऐसा लगता है कि निर्णय को लागू करने की कोई शक्ति नहीं है। अदालत ने सरकार को वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए ठोस उपाय करने के लिए 24 घंटे का समय दिया।
मुख्य न्यायाधीश एन.वी. रमन्ना की अध्यक्षता वाली और न्यायमूर्ति डी.वाई. चंद्रचूड़ और सूर्यकांत की पीठ ने कहा कि आपात स्थिति में आपातकालीन उपायों की जरूरत है। मुख्य न्यायाधीश ने केंद्र का प्रतिनिधित्व कर रहे सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता से कहा, अगर चीजें काम नहीं कर रही हैं तो आपको रचनात्मकता के साथ काम करना होगा। वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के उपायों के संबंध में, मुख्य न्यायाधीश ने कहा, हमें कुछ असाधारण करना होगा .. हम आपकी नौकरशाही में रचनात्मकता को लागू या प्रेरित नहीं कर सकते हैं, आपको कुछ कदम उठाने होंगे।

पीठ ने मेहता से पूछा, वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग क्या कर रहा है और बताया कि न्यायाधीशों ने आयोग में लोगों के नाम और पदनाम देखे हैं। पीठ ने कहा कि यह सभी विभागों के साथ भारत सरकार के संगठन की तरह दिखता है। न्यायमूर्ति चंद्रचूड़ ने कहा: ऐसा लगता है कि समस्या यह है कि इस आयोग के पास प्रवर्तन की कोई शक्ति नहीं है। सुनवाई के दौरान पीठ ने सवाल किया, हमारे आदेशों के बावजूद प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है। यह कहां से आ रहा है? पीठ ने आगे कहा कि 20-30 सदस्यीय समिति (वायु गुणवत्ता आयोग) का क्या फायदा? पीठ ने कहा, यह राजकोष पर एक और बोझ के अलावा और कुछ नहीं है।

मेहता ने कहा कि सरकार दिल्ली में जीवन के लिए खतरनाक प्रदूषण के स्तर के बारे में समान रूप से चिंतित है और उच्चतम प्राधिकरण से बात करने और संकट से निपटने के लिए अतिरिक्त उपाय करने के लिए एक दिन का समय मांगा है। शीर्ष अदालत ने स्पष्ट किया कि उसे राजधानी में वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए 24 घंटे के भीतर कार्रवाई करने की जरूरत है। पीठ ने कहा: यदि आप कार्रवाई नहीं करते हैं, तो हम कदम उठाएंगे ..।
शीर्ष अदालत ने केंद्र और राज्यों को वायु प्रदूषण को कम करने के लिए गंभीर होने का निर्देश दिया और शुक्रवार को मामले पर अगली सुनवाई निर्धारित की।



[ad_2]

Source link

RELATED ARTICLES

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल के जन्म दिन को सुसासन दिवस के रूप मे मनाएगी भाजपा, प्रदेश भर मे होंगे कार्यक्रम

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल जी के जन्मदिन को भाजपा सुशासन दिवस के रूप में व्यापक पैमाने पर मनाने जा रही है ।...

कैबिनेट मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने उत्तराखण्ड ग्लोबल इनवेस्टर्स समिट के प्रथम दिन के सत्र में देश व विदेश से पहुंचे निवेशकों को अपना...

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के विजन के अनुरूप उत्तराखण्ड को देश के अग्रणी राज्यों में शामिल करने के लिए “उत्तराखण्ड...

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से राज्य से जुडे विभिन्न विषयों पर चर्चा की।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात कर उन्हें देहरादून में 08 व 09...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती सोनिका द्वारा विभिन्न माध्यमों जागरूकता अभियान चलाने के दिए निर्देश

निर्वाचन-2024 में मतदान प्रतिशत् बढाने तथा अधिक से अधिक मतदाताओं की निर्वाचन में भागीदारी सुनिश्चित किये जाने के सम्बन्ध में जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती...

मेडिकल कॉलेज के बेस चिकित्सालय को मिले 53 नर्सिंग अधिकारी

राजकीय मेडिकल कॉलेज श्रीनगर के बेस चिकित्सालय को 53 स्थाई नर्सिंग अधिकारी मिले चुके है। शुक्रवार से नर्सिंग अधिकारियों ने बेस चिकित्सालय पहुंचकर अपने...

लाभार्थी संपर्क अभियान के तहत बूथ संख्या 89 कंपनीबाग में विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से मुलाकात करते कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी

रविवार को कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने मसूरी में बीजेपी के लाभार्थी संपर्क अभियान के तहत बूथ संख्या 89 कंपनीबाग में गांवभ्रमण कर केंद्र...

बदरीनाथ-केदारनाथ में जल्द शुरू होगें अस्पताल : डा. आर राजेश कुमार

स्वास्थ्य सचिव डा. आर राजेश कुमार ने कहा है कि चारधाम यात्रा से पहले बदरीनाथ और केदारनाथ में अस्पताल शुरू हो जाऐंगे। उन्होंने कहा...

विधानसभा क्षेत्र में करेंगे करोड़ों की योजनाओं का शिलान्यास-लोकार्पण

कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत आगामी 03 से 08 मार्च 2024 तक श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र के भ्रमण पर रहेंगे। अपने छह दिवसीय भ्रमण...

मुख्य सचिव राधा रतूड़ी से मिले बीकेटीसी अध्यक्ष अजेंद्र, केदारनाथ में आवासीय सुविधाओं के विस्तार की बताई जरुरत

श्री बदरीनाथ – केदारनाथ मंदिर समिति (बीकेटीसी) अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने आज मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी से भेंट कर आगामी यात्रा व्यवस्थाओं को...

प्रकृति से जुड़ने का संदेश देती है पुष्प प्रदर्शनी: महाराज

राज भवन में बसंतोत्सव 2024 “संकल्प से सिद्धि, फूलों से समृद्धि” तीन दिवसीय पुष्प प्रदर्शनी का राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह ने प्रदेश के...

पीएम जनमन योजना के तहत सूबे को मिली बड़ी सौगात

भारत सरकार ने प्रधानमंत्री जनजाति आदिवासी न्याय महाअभियान योजना (पीएम जनमन) के तहत प्रदेश के जनजातीय क्षेत्रों के स्कूली बच्चों के लिये तीन छात्रावास...

मुख्यमंत्री ने राजभवन में राज्यपाल से भेंट कर वसन्तोत्सव की दी शुभकामना।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को राजभवन में राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) से भेंट कर उन्हें वसन्तोत्सव की शुभकामना...

ग्राम्य विकास मंत्री गणेश जोशी का नव चयनित ग्राम विकास अधिकारी के अभ्यर्थियों ने जताया आभार।

सूबे के ग्राम्य विकास मंत्री गणेश जोशी से शुकवार को हाथीबड़कला स्थित उनके शासकीय आवास पर नव चयनित ग्राम विकास अधिकारी के अभ्यर्थियों ने...